More Bagiya Ke Sona Suganwa - Watch and Listen More Bagiya Ke Sona Suganwa

Lyrics of More bagiya ke sona suganwa

मोरे बगिया के सोना सुगनवा, सुगनवा कहवा उडी चलले हो पूछे निमिया से पुरवा पवनवा मोरा सुगनवा कहा उड़ी चलले हो बाबूजी दुवारे रोये मैया अंगनवा, बचवा पुकारे अंसुवा धार तुलसी के छेवरा बइठल रोये दुल्हनिया, रोये सगरो गऊँवा जवार छन - छन छछनले भितरे प्रणवा, कहवा उड़ी चलले हो मोरे बगिया के सोना सुगनवा, सुगनवा कहवा उडी चलले हो पूछे निमिया से पुरवा पवनवा मोरा सुगनवा कहा उड़ी चलले हो काठ के करेजवा बनवले सावरिया, कहा चले हमरा से दूर फेरी लेले मुहवा, छुड़ाई लेहले हथवा, कइनी हम कौन हो कसूर कइसन जिंदगी में लागल हो ग्रहणवा, सुगनवा कहा उड़ी चलले हो मोरे बगिया के सोना सुगनवा, सुगनवा कहवा उडी चलले हो पूछे निमिया से पुरवा पवनवा मोरा सुगनवा कहा उड़ी चलले हो
More bagiya ke sona suganwa

No comments:

Post a Comment

You May Also Like: